RSMSSB CET Syllabus 2024 राजस्थान सीईटी का नया सिलेबस 2024 जारी, सितंबर मे होगी परीक्षा

RSMSSB CET Syllabus 2024: राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने राजस्थान समान पात्रता परीक्षा का सिलेबस जारी कर दिया है । बोर्ड ने राजस्थान सीईटी स्नातक स्तर सिलेबस 2024 जारी किया है । राजस्थान सीईटी की परीक्षा सितंबर 2024 मे आयोजित की जाएगी ।

RSMSSB CET Syllabus 2024
RSMSSB CET Syllabus 2024

Rajasthan CET Graduation Level Syllabus 2024 in Hindi PDF का इंतजार कर रहे अभ्यर्थी नीचे दिए सिलेबस के अनुसार अपनी तैयारी शुरू कर दे । ताकि समय रहते आप परीक्षा मे अच्छे अंक प्राप्त कर सके । इस पोस्ट में समान पात्रता परीक्षा के पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई गई है।

Join WhatsApp GroupJoin Now

RSMSSB CET Graduation Level Syllabus 2024 in Hindi Exam Pattern

राजस्थान सीईटी सिलेबस 2024 परीक्षा में सभी प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप के होंगे तथा सभी प्रश्नों के अंक समान होगें। इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग नही किया जायेगा। तथा परीक्षा में 150 वस्तुनिष्ठ प्रकार के 300 अंकों के प्रश्न होंगे। जिसके लिए 3 घंटे का समय निर्धारित किया गया है।

Rajasthan CET New Syllabus in Hindi 2024

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन पर विशेष बल के साथ राजस्थान और भारत का इतिहास :

भारतीय इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाएँ, 19वीं और 20वीं शताब्दी में सामाजिक और धार्मिक सुधार आंदोलन। भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन-विभिन्न चरण, देश के विभिन्न क्षेत्रों के योगदानकर्ता और उनका योगदान।

1857 की क्रांति में राजस्थान का योगदान, राजस्थान में आदिवासी एवं किसान आंदोलन, राजनीतिक जागृति एवं प्रजामंडल आंदोलन। स्वतंत्रता के बाद राष्ट्र निर्माण, राष्ट्रीय एकीकरण और राज्यों का पुनर्गठन, नेहरू युग में संस्थागत निर्माण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी का विकास।

राजस्थान का इतिहास, कला, सांस्कृतिक, साहित्य, परंपरा और विरासत :

प्राचीन सभ्यताएँ, कालीबंगा, आहड़, गणेश्वर, बालाथल और बैराठ। राजस्थान के इतिहास की महत्वपूर्ण ऐतिहासिक घटनाएँ, प्रमुख राजवंश, उनकी प्रशासनिक और राजस्व प्रणालियाँ, सामाजिक-सांस्कृतिक आयाम।

वास्तुकला की प्रमुख विशेषताएं किले और स्मारक, कला, पेंटिंग और हस्तशिल्प। राजस्थानी साहित्य की महत्वपूर्ण कृतियाँ, क्षेत्रीय बोलियाँ। मेले, त्यौहार, लोक संगीत और लोक नृत्य। राजस्थानी संस्कृति, परंपरा और विरासत।

राजस्थान के धार्मिक आंदोलन, संत और लोक देवता। महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्थल। राजस्थान की प्रमुख हस्तियाँ। राजस्थान का एकीकरण ।

भारत का भूगोल

भौतिक स्वरूपः पर्वत, पठार, मरूस्थल एवं मैदान । जलवायु एवं मानसून तंत्र । प्रमुख नदियाँ, बांध, झीलें एवं सागर । वन्य जीव जन्तु एवं अभयारण्य । प्रमुख फसलें – गेहूँ, चावल, कपास, गन्ना, चाय एवं कॉफी।

भौतिक स्वरूप: पर्वत, पठार, रेगिस्तान और मैदान। जलवायु एवं मानसून प्रणाली। प्रमुख नदियाँ, बाँध, झीलें और सागर। जंगली जानवर और अभयारण्य। प्रमुख फ़सलें – गेहूँ, चावल, कपास, गन्ना, चाय और कॉफ़ी।

प्रमुख खनिज-लौह अयस्क, मैंगनीज, बॉक्साइट और अभ्रक। ऊर्जा संसाधन- पारंपरिक और गैर पारंपरिक। प्रमुख उद्योग एवं औद्योगिक क्षेत्र। राष्ट्रीय राजमार्ग, परिवहन के साधन और व्यापार

राजस्थान का भूगोल :

भूगर्भिक संरचना और भू-आकृतिक क्षेत्र। जलवायु परिस्थितियाँ, मानसून प्रणाली और जलवायु क्षेत्र। जल निकासी प्रणालियाँ, झीलें, सागर, बाँध और जल संरक्षण तकनीकें। प्राकृतिक वनस्पति। जंगली जानवर और अभयारण्य।

मिट्टी। रबी एवं ख़रीफ़ की प्रमुख फ़सलें। जनसंख्या-वृद्धि, घनत्व, साक्षरता एवं लिंगानुपात। प्रमुख जनजातियाँ। धात्विक एवं अधात्विक खनिज। ऊर्जा संसाधन- पारंपरिक और गैर पारंपरिक। पर्यटन स्थल । परिवहन के साधन: राष्ट्रीय राजमार्ग, रेल और विमान।

राजस्थान पर विशेष बल के साथ भारतीय राजनीतिक व्यवस्था :

भारतीय संविधान की प्रकृति, प्रस्तावना, मौलिक अधिकार, राज्य के नीति निदेशक सिद्धांत, मौलिक कर्तव्य, संघीय संरचना, संवैधानिक संशोधन, आपातकालीन प्रावधान, जनहित याचिका। संविधान सभा, भारतीय संविधान की विशेषताएँ।

राष्ट्रपति, प्रधान मंत्री और मंत्रिपरिषद, संसद, सर्वोच्च न्यायालय। संघीय और राज्य कार्यकारी, चुनाव आयोग, नियंत्रक और महालेखा परीक्षक, मुख्य सूचना आयुक्त, लोकपाल, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, स्थानीय स्वशासन और पंचायती राज।

राजस्थान की राजनीतिक एवं प्रशासनिक व्यवस्था, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, राज्य विधानसभा, उच्च न्यायालय, राजस्थान लोक सेवा आयोग, जिला प्रशासन, राज्य मानवाधिकार आयोग, लोकायुक्त, राज्य चुनाव आयोग, राज्य सूचना आयोग।

भारत की अर्थव्यवस्था :

बजट निर्माण, बैंकिंग, लोक-वित्त, वस्तु एवं सेवा कर, राष्ट्रीय आय, संवृद्धि एवं विकास का आधारभूत ज्ञान । राजकोषीय एवं मौद्रिक नीतियाँ । सब्सिडी, लोक वितरण प्रणाली । ई-कॉमर्स । अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्र कृषि, उद्योग, सेवा एवं व्यापार क्षेत्रों की वर्तमान स्थिति, मुद्दे एवं पहल।

हरित क्रान्ति, श्वेत क्रान्ति एवं नीली क्रान्ति। पंचवर्षीय योजनाएं एवं नियोजन प्रणाली। प्रमुख आर्थिक समस्याएं एवं सरकार की पहल, आर्थिक सुधार एवं उदारीकरण।

राजस्थान की अर्थव्यवस्था :

वृहद सिंचाई एवं नदी घाटी परियोजनायें, बंजड भूमि व सूखा क्षेत्र विकास परियोजनायें, इन्दिरा गांधी नहर परियोजना उद्योगों का विकास व उनका स्थान, कृषि आधारित उद्योग, खनिज आधारित उद्योग, लघु, कुटीर एवं ग्रामोद्योग, निर्यात सामग्री, राजस्थानी हस्तकला

राजस्थान की खाद्य व व्यावसायिक फसले, कृषि आधारित उद्योग । गरीबी एवं बेरोजगारी-अवधारणा, प्रकार, कारण, निदान एवं वर्तमान फ्लेगशिप योजनाए, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता कमजोर वर्गों के लिए प्रावधान।

विभिन्न कल्याणकारी योजनायें, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (MNREGA), विकास संस्थायें, सहकारी आन्दोलन, लघु उद्यम एवं वित्तीय संस्थायें, संविधान के 73 वें संशोधन के अनुरूप पंचायती राज संस्थाओं की ग्रामीण विकास में भूमिका।

इनके अलावा विज्ञान व प्रौद्योगिकी, तार्किक व मानसिक योग्यता, हिन्दी, अंग्रेजी, कंप्युटर और करंट अफेयर्स के विषयों के संबंधित पाठ्यक्रम भी है । जिसकी विस्तृत जानकारी सिलेबस पीडीएफ़ मे दी गई है । अभ्यर्थी नीचे लिंक से पीडीएफ़ डाउनलोड कर ले

RSMSSB CET Syllabus 2024 in Hindi PDF Check

राजस्थान सीईटी सिलेबस 2024 हिन्दी मे यहाँ से डाउनलोड करे: सीईटी स्नातक स्तर | सीईटी उच्च माध्यमिक स्तर

इस वेबसाइट पर आपको सरकारी नौकरी, शिक्षा समाचार, सरकार की सभी योजनाएं सभी ब्रेकिंग न्यूज़ की अपडेट सबसे पहले उपलब्ध करवाई जाती है। अभी हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़े: Click Here

Join Telegram Group (55K+)Join Now

Leave a Comment

two × 1 =